एक एक रचना में
कर्ता की पहचान होती है
जो ना कह पाए
वह ज़ुबान होती है
रश्मि प्रभा





==============================================================
पहचान





रचनाओं को जन्‍म देता रचनाकार,
जब भी कभी कहता सृष्टि की बातें,
जहां भी धरती होगी
अम्‍बर का साया वहां जरूर होगा
कितना भी छिप जाये चांद बादलों में
चांदनी से कहां वो दूर होगा
सात घोड़ों पे सवार सूरज के आने से पहले
रश्मियों से कोई बेनूर तो नहीं होगा ....
यह जीवन जिसमें सारे युग समाये हैं
बचपन को देखो तो इसका हर एक पल
तुम्‍हें सतयुग की याद दिलाएगा
जिसका हर भाव निस्‍वार्थ
हंसी हो प्‍यार सबकुछ निश्‍छल
उम्र के पड़ाव की अंतिम अवस्‍था वृद्धावस्‍था
इसकी घडि़यां जाने क्‍यों कलयुग सी हो जाती हैं ....
रचनाकार को अपनी कृति से
अनन्‍त प्‍यार होता है ....
रचनाओं की रचना करता कव‍ि ...
विचरण करता शब्‍दों के ब्रम्‍हांड में
ढूंढकर लाता मोती से शब्‍द
रचता इतिहास कभी जिनसे
कभी कहता राम का बनवास
कभी सीता की अग्नि परीक्षा
कभी कृष्‍ण का प्रेम राधा से
कभी मीरा का कृष्‍णमय हो जाना प्रेम में
अद्भुत होती तुलसी और सूर की गाथा ....
हर रंग बसा होता है अंतस में
उकेरता चित्र जब चित्रकार कोई रंग भरता उसमें
कैद कर लेता हर पल को जीवंत सा अपने चित्र में ...
रचता कुम्‍हार जब
चलती चाक पर माटी रखकर बर्तन को
पकाता उनको मजबूती के लिए फिर ....
यह सृजन तो एक वरदान है ....
यह पर्वत ... यह नदिया ... यह हवायें ...
ये सब इसकी पहचान हैं .....

सीमा सिंघल

17 comments:

  1. सुन्दर शब्द रचना।

    ReplyDelete
  2. यह सृजन तो एक वरदान है ....
    यह पर्वत ... यह नदिया ... यह हवायें ...
    ये सब इसकी पहचान हैं .....
    और इस रचना मे सीमा जी की पहचान है। बहुत सुन्दर रचना। बधाई।

    ReplyDelete
  3. "रचनाकार को अपनी कृति से
    अनन्‍त प्‍यार होता है ....
    रचनाओं की रचना करता कव‍ि ...
    विचरण करता शब्‍दों के ब्रम्‍हांड में"
    सीमा जी,
    रचनाकार में भी मातृत्व कूट-कूट कर भरा होता है.हर कृति उसके मन की कोख से जन्म लेती है .बहुत सुन्दर रचना.

    ReplyDelete
  4. छोटे से सृजन की अनुभूति हमें ईश्वर के समकक्ष जा बिठाती है।

    अच्छा तो सीमाजी ही है 'सदा'
    अनुत्तर रचना है…सार्थक


    सुज्ञ: भगवान रिश्वत लेते है?

    ReplyDelete
  5. waah.. bhaavpurn rachna Seema ji....!

    ReplyDelete
  6. बढ़िया...पसंद आई.

    ReplyDelete
  7. कितना भी छिप जाये चांद बादलों में
    चांदनी से कहां वो दूर होगा

    अच्छे भाव हैं रचना के ...
    आपका ये ब्लॉग नहीं देखा था मैंने ...
    आपने चर्चा की तो आज देखा ....
    बधाई आपको ...!!

    ReplyDelete
  8. कभी कहता राम का बनवास
    कभी सीता की अग्नि परीक्षा
    कभी कृष्‍ण का प्रेम राधा से
    कभी मीरा का कृष्‍णमय हो जाना प्रेम में
    अद्भुत होती तुलसी और सूर की गाथा ....
    हर रंग बसा होता है अंतस में
    उकेरता चित्र जब चित्रकार कोई रंग भरता उसमें
    कैद कर लेता हर पल को जीवंत सा अपने चित्र में ...
    रचता कुम्‍हार जब
    चलती चाक पर माटी रखकर बर्तन को
    पकाता उनको मजबूती के लिए फिर ....
    यह सृजन तो एक वरदान है ....
    यह पर्वत ... यह नदिया ... यह हवायें ...
    ये सब इसकी पहचान हैं .....bahut khub...har shabd mei sach se paripurn

    ReplyDelete
  9. यह जीवन जिसमें सारे युग समाये हैं
    बचपन को देखो तो इसका हर एक पल
    तुम्‍हें सतयुग की याद दिलाएगा
    जिसका हर भाव निस्‍वार्थ
    हंसी हो प्‍यार सबकुछ निश्‍छल
    उम्र के पड़ाव की अंतिम अवस्‍था वृद्धावस्‍था
    इसकी घडि़यां जाने क्‍यों कलयुग सी हो जाती हैं ....

    बहुत सही बात ... सुन्दर रचना !

    ReplyDelete
  10. जैसे चाक पर गढ़ता कुम्हार बर्तन ...
    वैसे ही मन की उथल पुथल से झरते हैं शब्द ...
    वाकई यह सृजन तो एक वरदान है ...

    ReplyDelete
  11. जो भी कुछ होता है जीवन में ये उस ''कर्ता'' की ही पहचान है..बहुत खूब..

    ReplyDelete
  12. जो भी कुछ होता है जीवन में ये उस ''कर्ता'' की ही पहचान है..बहुत खूब..

    ReplyDelete
  13. म एडम्स KEVIN, Aiico बीमा plc को एक प्रतिनिधि, हामी भरोसा र एक ऋण बाहिर दिन मा व्यक्तिगत मतभेद आदर। हामी ऋण चासो दर को 2% प्रदान गर्नेछ। तपाईं यस व्यवसाय मा चासो हो भने अब आफ्नो ऋण कागजातहरू ठीक जारी हस्तांतरण ई-मेल (adams.credi@gmail.com) गरेर हामीलाई सम्पर्क। Plc.you पनि इमेल गरेर हामीलाई सम्पर्क गर्न सक्नुहुन्छ तपाईं aiico बीमा गर्न धेरै स्वागत छ भने व्यापार वा स्कूल स्थापित गर्न एक ऋण आवश्यकता हो (aiicco_insuranceplc@yahoo.com) हामी सन्तुलन स्थानान्तरण अनुरोध गर्न सक्छौं पहिलो हप्ता।

    व्यक्तिगत व्यवसायका लागि ऋण चाहिन्छ? तपाईं आफ्नो इमेल संपर्क भने उपरोक्त तुरुन्तै आफ्नो ऋण स्थानान्तरण प्रक्रिया गर्न
    ठीक।

    ReplyDelete
  14. प्रिय ऋण साधक

    कुनै पनि वित्तीय कठिनाइ तपाईं? तपाईं आफ्नो व्यवसाय सुरु गर्न चाहनुहुन्छ? यो ऋण कम्पनी जीवनको वित्तीय कठिनाइ संग गरिब र मान्छे मदत गर्ने एकमात्र उद्देश्य साथ संसारभरि मानव अधिकार संगठन स्थापित भएको थियो। तपाईं एक ऋण को लागि लागू गर्न चाहनुहुन्छ भने, विवरण इमेल तल संग फिर्ता हामीलाई प्राप्त: elenanino0007@gmail.com

    नाम:
    ऋण रकम आवश्यक:
    ऋण अवधि:
    मोबाइल नम्बर:

    र परमेश्वरको आशीर्वाद धन्यवाद
    निर्धक्क
    Elena

    ReplyDelete

 
Top