वटवृक्ष से जुड़े

समस्त सम्मानित पाठकों एवं रचनाकारों को दीपावली की

शुभकामनाएं !




जिस दीये से अँधेरा मिट जाये
वही लाना है
मिट्टी के तन में चेतना की वर्तिका को कंचन की तरह जलाना है ...
रश्मि प्रभा

===========================================================================
!!तो दीप जले !!

चलो आज कोई
नया सौदा किया जाए
कुछ अपने से ही सही
एक वादा किया जाए
एक ऐसा दीप जलाया जाए
मन के अंधियारों को
मिटाया जाए
आओ
आस का उजियारा फैलाएं
अविश्वास के अंधियारे को मिटायें
आस्था का सूरज उगायें
प्रेम की नदिया बहाएं
एक पुल ऐसा बनाएँ
कि हृदयतम मिट जाए
तो दीप जले आओ
भ्रष्टाचार को मिटायें
जातिवाद और धर्म
की दीवारें गिरायें
प्रेम पंछियों को
उड़ने का आकाश दे पाएं
अपने स्वार्थों का
बलिदान दे पाएं
प्रेम की अमरबेल लगा पाएं
तो दीप जले आओ
आत्मजोत जगाएं
किसी लब पर
मुस्कान खिलाएं
किसी की आँख की
ज्योति बन जाएँ
किसी मासूम के
चेहरे की मुस्कान बन जाएँ
तो दीप जले
चलो ये वादा
खुद से करें
इस दिवाली
मन के दीपो की
लड़ियाँ बनाई जाये
तो दीप जले

वंदना गुप्ता

http://vandana-zindagi.blogspot.com/

http://ekprayas-vandana.blogspot.com/


17 comments:

  1. बहुत सुंदर अभिव्यक्ति |बधाई |
    आशा

    ReplyDelete
  2. बहुत ख़ूबसूरत पंक्तियाँ ! आदरणीया वंदना जी को दीपोत्सव की ढेरों शुभकामनाएँ! रश्मि दी को भी दीवाली की हार्दिक शुभकामनाएँ ! प्रणाम !

    ReplyDelete
  3. सुन्दर रचना!
    दीपोत्सव की हार्दिक शुभकामनायें!

    ReplyDelete
  4. दीप पर्व की हार्दिक शुभकामनायें।

    मेरी रचना को इस अवसर पर स्थान देने के लिये हार्दिक आभारी हूँ।

    ReplyDelete
  5. आदरणीया वंदना जी को दीपोत्सव की ढेरों शुभकामनाएँ! रश्मि जी को भी दीवाली की हार्दिक शुभकामनाएँ ! प्रणाम !

    ReplyDelete
  6. दीपावली के अबसर पर इस सुन्दर रचना के लिए बधाई!
    --
    प्रेम से करना "गजानन-लक्ष्मी" आराधना।
    आज होनी चाहिए "माँ शारदे" की साधना।।

    अपने मन में इक दिया नन्हा जलाना ज्ञान का।
    उर से सारा तम हटाना, आज सब अज्ञान का।।

    आप खुशियों से धरा को जगमगाएँ!
    दीप-उत्सव पर बहुत शुभ-कामनाएँ!!
    --

    ReplyDelete
  7. खूबसूरत रचना के साथ ...दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ

    ReplyDelete
  8. सुन्दर कामना से सजी रचना...बधाई
    दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं.

    ReplyDelete
  9. रश्मि जी आपको और वटवृक्ष के सभी सम्मानित सदस्यों को दीपावली की ढेर सारी शुभकामनायें ।

    ReplyDelete
  10. दीपावली का ये पावन त्‍यौहार,
    जीवन में लाए खुशियां अपार।
    लक्ष्‍मी जी विराजें आपके द्वार,
    शुभकामनाएं हमारी करें स्‍वीकार।।

    ReplyDelete
  11. सुख औ’ समृद्धि आपके अंगना झिलमिलाएँ,
    दीपक अमन के चारों दिशाओं में जगमगाएँ
    खुशियाँ आपके द्वार पर आकर खुशी मनाएँ..
    दीपावली पर्व की आपको ढेरों मंगलकामनाएँ!

    -समीर लाल 'समीर'

    ReplyDelete
  12. अविश्वास का अँधेरा मिटायें ...
    आस्था का सूरज जगाएं ...
    दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें ..!

    ReplyDelete
  13. बहुत ही सुन्‍दर अभिव्‍यक्ति ....वन्‍दना जी को ढेर सारी बधाई एवं रश्मि दी का आभार इस प्रस्‍तुति के लिये ।

    ReplyDelete
  14. बहोत ही सुंदर प्रस्तुति..........दिपोत्सव की शुभकामनाएँ

    ReplyDelete
  15. bahut sundar rachna, mann mein jaise deep jal gaye, shubh deepawali. badhai vandana ji.

    ReplyDelete
  16. आपको सपरिवार दीपावली की हार्दिक शुभ कामनाएँ!

    सादर

    ReplyDelete
  17. Bahut sunder,
    apko S-PARIWAR deep parw ki hardik subhkamnaye.

    Sadar
    Ravi Rajbhar

    ReplyDelete

 
Top